सोमवार, 5 फ़रवरी 2018

791


हरियाणा साहित्य अकादमी-परिष्कार  कार्यशाला के विद्यार्थी
1-पूनम  सैनी
1
फूलों में कलियों में,
दिल तो महके है,
यादों की गलियों में।
2
पावन सा दरिया है,
बच्चों का हँसना,
खुशियों का ज़रिया है।
3
पूजा है ईश्वर की
 मात-पिता सेवा,
 पूजा जगदीश्वर की।
4
काँटों का राही है,
जीवन मानव का,
कष्टों की स्याही है।
5
यह घोर परीक्षा है,
सुख-दुख की छाया,
जीवन की दीक्षा है।
6
अनजान डगर है ये,
खुद से ही खुद का,
अनजान सफर है ये।
7
करुणा का रस्ता है,
मानव भीतर ही,
वह ईश्वर बसता है।
8
क्या वो रणधीर नहीं,
फर्ज निभाते हैं,
क्या वो भी वीर नहीं।
9
खेती लहराते हैं,
फिर भी मुफ़लिस हैं,
फसलें उपजाते हैं।
-0-
2- रुखसाना
1
जीवन सारा सींचा
फिर भी माया को
मानव ने ही खींचा।
2
जो माया में भटका
मंज़िल ना पाए
वह बीच डगर अटका ।
3
पैसा- पैसा करते
प्रेम उसे मिलता
जो धन पर ना मरते।
4
काली रतियाँ छाई
निर्भय हो जाओ
आई  है कठिनाई ।
5
माया को सब छोड़ो
बेशक धन-दौलत
हीरे- मोती जोड़ो ।।
-0-
3- विनती गर्ग
1
जीवन है सिखलाता
धूप कहाँ छाया
हमको है दिखलाता।
2
माँ देखो बोल रही
जल्दी तू आजा
यादों को खोल रह॥
3
पत्थर भी कहते हैं-
ना मारो उनको
जो दुख ही सहते है।
-0-

14 टिप्‍पणियां:

neelaambara ने कहा…

बहुत, सुन्दर रचनाएँ, नन्हे साहित्यकारों जी जय हो।

Vibha Rashmi ने कहा…

अतिसुन्दर माहिया । नन्हें रचनाकारों में अनेक संभावनाएँ छिपी हैं । शाबाशी तो बनती है प्यारे बच्चों ।

अनिता मंडा ने कहा…

अच्छा लगा नयापन।
नन्हे साहित्यकार पँख फैलाएँ, आसमान नापें, यही मंगल कामना।

Krishna ने कहा…

बेहद सुंदर माहिया। आप सभी प्यारे रचनाकारों को हार्दिक बधाई।

Shashi Padha ने कहा…

अरे वाह! बहुत मनभावन माहिया| सभी नन्हे रचनाकारों को बधाई एवं शुभकामनाएँ|

अनाम ने कहा…

सभी सुन्दर रचनाएं विशेष कर पूनम की | सुरेन्द्र वर्मा |

ज्योति-कलश ने कहा…

सुन्दर भाव ,शिल्प से सजे बहुत सुन्दर माहिया !
तीनों रचनाकारों को हार्दिक बधाई ,ढेरों शुभकामनाएँ !!

Jyotsana pradeep ने कहा…

वाह ! सुन्दर,सरस तथा मनमोहक माहिया..बधाई के साथ -साथ भविष्य के लिए शुभकामनाएँ भी प्यारे - प्यारे रचनाकारों को !!

Unknown ने कहा…

विद्यार्थी वर्ग के सभी माहिया सुन्दर ,लयपूर्ण ,भाव सम्पन हैं ।सभीको हार्दिक बधाई और साहित्य पथ पर यूँ ही सफलता पूर्वक आग बढ़ते रहें ।शुभआशीष ।

प्रियंका गुप्ता ने कहा…

वाह ! बहुत प्यारे माहिया...| इन सभी बच्चों को प्यार भरा आशीष और शुभकामनाएँ...|

Dr.Purnima Rai ने कहा…

बेहतरीन भावनाओं का चित्रांकन करते उम्दा माहिया!!सभी छात्रों को हार्दिक बधाई!!

Unknown ने कहा…

सभी के माहिया बहुत मनभावन । ईश्वर आप सबको खूब यश दे। सदा खुश रहो प्यारे बच्चों ।

शिवजी श्रीवास्तव ने कहा…

सभी छात्राओं के माहिया सरस, भावपूर्ण और गम्भीर अर्थवत्ता युक्त हैं।निःसन्देह इन बेटियों में अपार सम्भावनाएँ है।बधाई एवम् शुभकामनाएँ।

Anita Lalit (अनिता ललित ) ने कहा…

नन्हे साहित्यकारों के इतने गहन और भावपूर्ण माहिया ने मन मोह लिया! आप सभी को बहुत-बहुत बधाई एवं स्नेहाशीष! ख़ूब आगे बढिए, यही शुभकामनाएँ हैं हमारी!

~सस्नेह
अनिता ललित