रविवार, 8 जुलाई 2018

816-मुलाक़ात


माहिया (मुलाक़ात)
पूनम सैनी
1
इक बार चले आओ

पूनम सैनी

मन में बसते हो,
नैनों में बस जाओ।
2
फूलों में रस जैसे
मैं तो बसती हूँ
साँसों में बस ऐसे।
3
बरसात बहाना है
दो पल रुकना है,
वापस  फिर जाना है।
4
ये बात नहीं अच्छी
बस दो ही पल की
बरसात नहीं अच्छी।
5
नज़रें झुक जातीं हैं
जब तुम मिलते हो
साँसें रुक जाती हैं।
6
यूँ आँख चुराओ ना,
हम तुम ग़ैर नहीं,
ऐसे शर्माओं ना।
7
आ पास ज़रा बैठो,
बात बसी दिल में,
आ पास ज़रा कह दो।
8
लब तो ना खोलूँ मैं,
आँखों से समझो,
नैनों से बोलूँ मैं।
-0-
पूनम सैनी
648/2 दयाल सिंह  कॉलोनी, नजदीक अलमारी फैक्ट्री, हाँसी ( हरियाणा)

25 टिप्‍पणियां:

प्रियंका गुप्ता ने कहा…

बहुत सुंदर, बधाई

अनिता मंडा ने कहा…

वाह, सभी माहिये सधे हुए। बधाई।

सुनीता काम्बोज ने कहा…

वाह ,सभी माहिया बहुत सुंदर .....हार्दिक बधाई 🌷🌷🌷👏👏👏👏👏

Dr. Shailja Saksena ने कहा…

मीठे-मीठे माहिया!बधाई!

Rashid Ameen Malai ने कहा…

बहुत खूबसूरत

Satya sharma ने कहा…

बहुत ही सुंदर माहिया 👌👌
हार्दिक बधाई

शिवजी श्रीवास्तव ने कहा…

सरस् भावों की सरल और सहज अभिव्यक्ति,माधुर्य से परिपूर्ण समस्त माहिया सुन्दर।बधाई पूनम सैनी जी।

मंजूषा मन ने कहा…

बहुत सुंदर माहिया पूनम जी...

sushila ने कहा…

बहुत सुंदर
बधाई पूनम जी

ब्लॉग बुलेटिन ने कहा…

ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, सेठजी, मनिहारिन और राधा रानी “ , मे आप की पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

ज्योति-कलश ने कहा…

बहुत सरस , सुंदर!
हार्दिक बधाई!!

Kuldeep ने कहा…

बहुत सुंदर पंक्तिया

Vibha Rashmi ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.
Vibha Rashmi ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.
Vibha Rashmi ने कहा…

बहुत सरस माहिया । बधाई प्रिय पूनम ।

Jyotsana pradeep ने कहा…

बहुत सुन्दर माहिया पूनम जी. .... हृदय तल से बधाई !

Sudershan Ratnakar ने कहा…

सुंदर अभव्यक्ति।बधाई

भावना ने कहा…

सुंदर अभव्यक्ति।बधाई पूनम।

Unknown ने कहा…

पूनम जी क्या कहने !
माहिया है या प्यार की बतिया ?
बहुत सुन्दर सरस अभिव्यक्ति । बधाई ।

पूनम सैनी ने कहा…

आप सभी के प्यार भरे वचनों के लिए ह्रदय से बहुत बहुत धन्यवाद। ��

पूनम सैनी ने कहा…

बहुत बहुत शुक्रिया। 🙏

Vibha Rashmi ने कहा…

बहुत मीठे ,रसीले महिया । बधाई ।

Vibha Rashmi ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.
Unknown ने कहा…

Aapki trha khubsoorat.

Unknown ने कहा…

Jawab nhi punam ji aapka