सोमवार, 25 अक्तूबर 2021

996

  रश्मि विभा त्रिपाठी

1

खिली जुन्हाई


शरत्पूर्णिमा आई

विधु की अगुआई

करती विभा

सुधा- निधि जो पाई

झूमीनाचीहर्षाई ।

2

शरत् काल

सुधा- रस- वर्षा

चन्द्र- कृपा से हर्षा

मन- मराल

मिटाए अवसाद

अलौकिक 'प्रसाद

3

शरत्पूर्णिमा

जाह्नवी- सी जुन्हाई,

चन्दा ने आ बिछाई

प्रभा- आसनी

माँ शाम्भवी के अंक

खेलते लाला स्कंद ।

4

नभ से चन्द्र

अमृत बरसाएँ

निरखेंहरषाएँ

भव्य रास की

कान्हा लीला रचाएँ

मन्द- मन्द मुस्काएँ ।

5

मन- सिन्धु में

द्वेष का दलदल

धारा नहीं निर्मल

भाव विकल

कैसे हो परिमल

अलि! प्रेम- उत्पल ।

6

प्रेम निर्मल

होऊँ जो मैं विकल

सींचें वे आशा- जल

भाव- विह्वल

प्रिय से परिमल

मन- ब्रह्म- कमल ।

7

प्रफुल्ल प्रभा

तम ने मुँह फेरा

लाए शुभ सवेरा

प्रिय प्रणम्य

तप- त्याग तुम्हारा

मेरा भाग सँवारा ।

8

दूर देश से

सदा भेजें दुआएँ

मुकुलित आशाएँ

मन मुदित

श्वासें जब भी गाएँ

प्रिय झूमेंहर्षाएँ।

26 टिप्‍पणियां:

Shiam ने कहा…

आपकी रचना बड़ी ही मार्मिक और सामयिक है | बहुत सुंदर विचारों से प्रपूर्ण रचना के लिए साधुवाद -श्याम हिंदी चेतना

शिवजी श्रीवास्तव ने कहा…

बहुत सुंदर,भाषा का लालित्य और मधुर भावों की सरसता लिए सेदोका मन को मुग्ध कर रहे हैं।बधाई रश्मि विभा जी।

dr.surangma yadav ने कहा…

बहुत सुंदर भाव व भाषा युक्त सेदोका। बधाई रश्मि विभा जी।

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

आपकी टिप्पणी सदैव प्रोत्साहित करती है।
हार्दिक बधाई आदरणीय।

सादर 🙏🏻

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक बधाई आदरणीय ।

सादर

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक बधाई आदरणीया।

सादर

Vibha Rashmi ने कहा…

भाषा , भाव , बिम्ब सौंदर्य , सेदोका जी उठे । बधाई अनुज रश्मि विभा । 👍👌

Sushila Sheel Rana ने कहा…

कैसे हो परिमल
अलि! प्रेम- उत्पल ।

वाह ! बहुत ही सुंदर भावाभिव्यक्ति। बधाई

दिनेश चंद्र पांडेय ने कहा…

कथ्य और शिल्प दोनों सुंदर भाव व भाषा लालित्य पूर्ण. बधाई और शुभकामनाएं.

Shri Umesh Sharma ji ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
प्रियंका गुप्ता ने कहा…

सुन्दर बिम्ब वाले सभी सेदोका बहुत अच्छे हैं, बहुत बधाई

Shri Umesh Sharma ji ने कहा…

Many many congratulations Rashmi vibha ji may your pen always give us so much peace and happiness to read your sedoka always .you are a great writer of era .God bless you Little girl.i always pray to god may you shine always like a pole star for many young writers worldwide .you are real inspiration for us a real Gem

Krishna ने कहा…

बहुत सुंदर सरस सेदोका...बहुत बधाई!

Dr. Purva Sharma ने कहा…

सुंदर प्यारे सेदोका
हार्दिक शुभकामनाएँ रश्मि जी

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

सुन्दर

सविता अग्रवाल 'सवि' ने कहा…

रश्मि जी बधाई स्वीकारें सुंदर सेदोका के सृजन के लिए।

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक आभार आदरणीया दीदी।

सादर 🙏🏻

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक आभार आदरणीया।

सादर 🙏🏻

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक आभार आदरणीय।

सादर🙏🏻

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक आभार आदरणीया।

सादर🙏🏻

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक आभार आदरणीया।

सादर🙏🏻

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक आभार आदरणीया।

सादर🙏🏻

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक आभार आदरणीय ।
सादर🙏🏻

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक आभार आदरणीया।

सादर ����

Rashmi Vibha Tripathi ने कहा…

हार्दिक आभार आदरणीय।

सादर 🙏🏻